Wednesday, April 17, 2024
HomeEventsJhandewala Temple Online Darshan e-Pass Registration Booking

Jhandewala Temple Online Darshan e-Pass Registration Booking

Good News Jhandewala Devi Temple in Delhi will reopen on October 7. The temple’s trust has issued guidelines for devotees as the state is set to reopen places of worship from Navratri, which begins on October 7.

According to the guidelines issued by Temple Trust, devotees will have to register at the temple’s website before entering the premises

Darshan e-Pass Booking of Jhandewala Devi Temple:-

Jhandewala Devi Temple Darshan E-Pass Booking Click here

Temple Timing of Jhandewala Devi Temple:-

कोविड महामारी में सिर्फ लाइव दर्शन 06:00 – 21:00

शीतकाल

  • (शारदीय नवरात्र के अंतिम दिन के उपरांत)
  • मंदिर के पट खुलने का समय – प्रातः 05.30
  • मंदिर के पट बंद होने का समय – रात्रि 09.30
  • मंगलवार मंदिर के पट बंद होने का समय – रात्रि 10:00

ग्रीष्मकाल

  • (वासांतिक नवरात्र के अंतिम दिन के उपरांत)
  • 05:00 – 13:00
  • 16:00 – 22:00
  • मंगलवार मंदिर का समय: 04:00 – 22:30
  • रविवार मंदिर का समय: 05:30 – 22:00

नवरात्र श्रृंगार आरती का समय

नवरात्रों में मंदिर प्रातः 4.00 बजे खुलकर रात्रि 12.00 बजे बंद होता है। सायं 6.15 से सायं 7.00 बजे तक मंदिर सफाई हेतु बंद रहता है ।

रविवार, मंगलवार, प्रत्येक मास की शुकक़्ल फक्ष की अष्टमी ऋवं प्रमुखों त्यौहारों फर मंदिर सारा दिन खुला रहता है । अन्य दिनों में मंदिर दोपहर 1.00 बजे से सायं 4.00 बजे तक बंद रहता है ।

मंदिर में आरती का समय

आरतीकोविड समयग्रीष्मकालीन समयशीतकालीन समय
मंगला आरतीप्रातः 6.00 बजेप्रातः 5.30 बजेप्रातः 6.00 बजे
श्रॄंगार आरतीप्रातः 9.00 बजेप्रातः 9.00 बजेप्रातः 9.00 बजे
भोग आरतीदोपहर 12.00 बजेदोपहर 12.00 बजेदोपहर 12.00 बजे
संध्या आरतीरात्रि 7.30 बजेरात्रि 8.00 बजेरात्रि 7.30 बजे
शयन आरतीरात्रि 9.00 बजेरात्रि 10.00 बजेरात्रि 9.30 बजे
नवरात्रों में श्रृंगार आरती केवल प्रातः 4.00 बजे और सायं 7.00 बजे की जाती है ।

 

Jhandewala Temple Trust Accommodation:-

Accommodation if Jhandewala Temple Trust Click here

Guidelines issued by Jhandewala Temple Trust:-

  • रविंद्र गोयल ने बताया की दर्शन के लिए ऑनलाइन बुकिंग करके आने वाले श्रद्धालुओं के लिए एक अलग से लाइन होगी.
  • जो समय और दिन उन्होंने बुक किया है उसी के मुताबिक उन्हें दर्शन की सुविधा मिल पाएगी.
  • रविंद्र गोयल ने बताया कि यह सुविधा पूरी तरीके से नि:शुल्क है, इसके लिए भक्तों को कोई भी चार्ज नहीं देना है. सुबह 4:30 बजे से लेकर रात 11:00 बजे तक के अलग-अलग स्लॉट पर श्रद्धालु अपने दर्शन बुक कर सकते हैं.
  • मंदिर के ट्रस्टी ने बताया कि एक बुकिंग पर 4 लोगों को आने की अनुमति है.
  • वहीं नवरात्रि के पहले दिन 250 से ज्यादा लोगों ने इस वेबसाइट (http://online-seva.jhandewalamandir.org) पर ऑनलाइन बुकिंग की और अगले दिन के लिए सभी प्लॉट पहले ही बुक हो चुकी हैं.

1 COMMENT

3.2 5 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
1 Comment
Newest
Oldest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Shallu
Shallu
4 days ago

Jai mata di

- Advertisment -
CharDham

Most Popular

- Advertisment -
Rann Utsav

Recent Comments

1
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x